भाजपा के कुतर्क

(स-आभार : इन्टरनेट)

यदि मोदी कह दे की २+२= ५ होता है ,तब भक्तजन ख़ुशी ख़ुशी इसे भी मान जायेंगे।
यदि कोई पूछे की "कैसे?" ....तब भाजपाई भक्तजन इसका क्षेत्र-रक्षण कैसे-कैसे कुतर्कों से करेंगे
एक दर्जन तरीके:
----------------------------------------------------------
"कैसे?" पूछने पर भक्तजन तुम पर गालियाँ बरसाएंगे । वह कुतर्क करेंगे की :
1) तुम केजरीवाल से नहीं पूछते हो की २+२=४ कैसे हुआ ? ( प्रत्यक्ष सही को नकार देना और उसके सही होने का सबूत माँगना)
2) तुम तब कहाँ गए थे जब मोदी जी ३+२=५ कहा था ?(एक सही काम को परोक्ष कर के सौ गलतियों को बचाव करना)
3) तुम तो बस केजरीवाल के 2+3=4 का समर्थन करोगे (केजरीवाल के खिलाफ झूठ फैलाना)
4) तुम लोग भी मुसलामनों के साथ हो,खान्ग्रेस्सी हो, sickular हो, क्योंकि मुसलमान भी 2+2=4 बोलते हैं।(चाहे सही बोले मगर यदि किसी से घृणा है तो उसकी सही बात भी गलत मानते हैं)
5) केजरीवाल सोनिया गांधी के 3+2=4 के विर्रुध क्यों नहीं बोलता है ,उसे क्या मोदी जी की 2+2=5 ही गलत नज़र आता है। केजरीवाल कांग्रेस का एजेंट है।
6) केजरीवाल भगोड़ा है , वह 2+2=4 बताने के बाद छोड़ कर भाग गया। उसने यह नहीं बताया की मोदी का 2+2=5 कैसे गतल हुआ। केजरीवाल भगोड़ा है, "हाँ हाँ केजरीवाल भगोड़ा है"।
7) केजरीवाल से पूछो की 2 बटा 0 कितना हुआ? (अनिश्चित उत्तर से केजरीवाल की अज्ञानता और अयोग्यता साबित करना)
8) केजरीवाल यह बताये की किसी प्रतियोगिता के परिणाम में 2nd आने वाला 1st आने वाले से पीछे क्यों माना जाता है,जबकि 2 संख्या 1की संख्या से बड़ी होती है।(विषय वस्तु के बाहर ,भटक जाना, भ्रम फैलाना)
9) जी नहीं,कभी-कभी 1और 1 ग्यारह होते है।(मुहावरों और लोकोक्तियों को तर्क के समान प्रयोग करना)
10)  अगर इंसान का होंसला हो ,अपने में विश्वास हो तो वह 2+2=5 क्या, कुछ भी कर सकता है।(भावुक बातों से भ्रम फैलाना)
11) मोदी जी गुजराती है। व्यापार उनके खून में है। तुम क्या जानो की व्यापार कैसे होता है। गुजरात में व्यापार में 2+2 को पांच ही बनाया जाता है।(धोखाधड़ी और बेईमानी को व्यापार का आधार बताना और "दुनिया की रीत" बताना। बेईमानी से मिली कामयाबी पर गर्व करना)
12) केजरीवाल तब कहाँ था जब सोनिया ने 2+2=5 बता कर परीक्षा में पास हो गई थी।(अतीत में हुई गलतियों के आधार पर आज के सुधार कार्य को झूठला देना)

Popular posts from this blog

BODMAS Rule सैद्धांतिक दृष्टि से क्या है?

The STCW 2010 Manila (Scam) Convention

Difference between Discretion and Decision making