Posts

Showing posts from December, 2013

Over-simplicisation is dangerous too. There has to be gap between the "khaas" and the "aam"

We might require a comprehensive theory on what should be "aam" (simpli-cised, general) and what should be "khaas" (special). After all, this too is a Dystopian behaviour where sweets will value the same price as the vegetables . As the famous Hindi language proverb says "Andher nagari chaupat raja, jis bhav bhaaji, us bhaav khaaja." Excessive equality is as much inferior on the intellectual test, as is the vast inequality.
     Inequality is the secret driving engine of nature. Something like the Gravity gradient, which causes the potential energy be created and stored away. Or the voltage difference which causes the electricity to flow. But do remember that a large difference, a representation of the inequality, results into an Avalanche breakdown, or a short-circuit in the electricity.
  A politician when he becomes a statesman, should or should not be treated as "khass", we shall seek to examine. In Hindu beliefs, the understanding about th…

सामंत वादी व्यवहार और साधारण समझ (IQ)

सामंतवादी मानसिकता भी मनुष्य की बौद्धिक योग्यता, उसका IQ घटा देने की क्रिया करती है | सामंतवादी मानसिकता एक प्रकार का सामाजिक व्यवहार है जब कोई व्यक्ति खुद को दूसरे से अधिक महत्वपूर्ण , शासन-सत्त, रासुक वाला और योग्य समझता है | मनोविज्ञान की समझ से देखें तो सामंतवादी मसिकता मनुष्य के सामाजिक न्याय की नैसर्गिक समझ को प्रभावित करती है जिससे की उसके तर्कों में तोड़-मरोड़ आ जाते है | तर्कों में आये , उत्पन्न , मरोड़ का सीधा असर विवेक , विवेचन बुद्धि पर पड़ता है और फिर बौद्धिक क्षमता ही कम हो जाती है | यह प्रकिय एक साथ पूरे-पूरे समाज या एक पूरे राष्ट्र के साथ घट सकती है -- जिससे की पूरे नागरिक बल ही अल्प-बुद्धि वाला बन सकता है |
  भारत का इतिहास तो भरा हुआ है इस सामंतवादी मानसकित से | आप चाहे तो छुआ-छूत वाली जात प्रथा को देखें, या आधुनिक "लाल बत्ती " कल्चर को - या सरकारी अधिकारीयों के 'लाट साहबी ' व्यवहार को -- यह सब सामंतवादी मानसिकता के ही अलग-अलग स्वरुप हैं | सामंतवादी मानसिकता में धर्म -और-न्याय की जगह ताकत और हिम्मत को प्रयोग किया जाता है | सामंतवादी दिम्माग में यह एहसास…